सूर्य ग्रहण 2020 : जानें ग्रहण का समय, और इन बातों का रखें विशेष ध्यान

रविवार 21 जून आषाढ़ अमावस्या को 2020 का पहला सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) लगने वाला है।  साल 2020 का पहला सूर्य ग्रहण करीब 6 घंटों तक प्रभावी रहेगा। ऐसा सूर्य ग्रहण 900 साल बाद लग रहा हैं। सूर्य ग्रहण 2020 में चन्द्रमा सूरज को इस तरह कवर कर लेगा की सूर्य की आकृति एक चमकती रिंग (Ring of fire) की तरह दिखाई देगी। 

क्या होता है सूर्य ग्रहण :

Surya Grahan 2020, सूर्य ग्रहण 2020

सूर्य ग्रहण एक सामान्य खगोलीय घटना है। चन्द्रमा जब सूर्य और पृथ्वी के बीच में आ जाता है तो सूर्य की रोशनी पृथ्वी पर नहीं पहुंच पाती है और पृथ्वी पर चन्द्रमा की छाया पड़ती हैं। जिस जगह यह छाया पड़ती है वहाँ आंशिक रूप से अँधेरा हो जाता हैं। इस खगोलीय परिस्थिति  को ही सूर्य ग्रहण कहा जाता है।

सूर्य ग्रहण 2020 का समय:

भारतीय समयानुसार यह ग्रहण सुबह 9 बजकर 15 मिनट से शुरू होगा। सूर्य ग्रहण शुरू में आंशिक सूर्य ग्रहण होगा और 10 बजकर 17 मिनट तक यह पूर्ण सूर्य ग्रहण की तरह दिखाई दे सकता है। पूर्ण सूर्य ग्रहण रविवार दोपहर को 2 बजकर 2 मिनट पर समाप्त होगा। जबकि आंशिक सूर्य ग्रहण 3 बजकर 4 मिनट पर खत्म होगा।

21 जून को पड़ने वाले ग्रहण का सूतक काल 20 जून को रात 09:15 बजे लगेगा। यह सूतक काल 21 जून को ग्रहण की समाप्ति पर खत्म होगा। प्रमुख मंदिर और धार्मिक स्थल सूतक काल के दौरान बंद रहेंगे।

धार्मिक मान्यता के अनुसार ग्रहण के दौरान और पश्च्यात क्या करें क्या नहीं :

सूर्य ग्रहण के दौरान खान-पान, शुभ कार्य आदि करना अच्छा नहीं माना जाता है। ग्रहण काल के दौरान गुरु मंत्र का जाप, किसी मंत्र की सिद्धी, रामायण, सूंदर कांड का पाठ, तंत्र सिद्धि आदि कर सकते हैं। ग्रहण के बाद पवित्र नदियों में स्नान, शुद्धिकरण करके दान देना चाहिए. इस समय में गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नही निकलना चाहिए। ग्रहण काल में सूर्य से पराबैंगनी किरणे निकलती हैं, जो गर्भस्थ शिशु के लिए हानिकारक होती हैं।

सूर्य ग्रहण के दौरान विशेष ध्यान में रखें ये बातें :

Suraya Grahan 2020 Savdhaniya (Precautions)
  • सूर्य ग्रहण के दौरान अक्सर लोग नंगी आंखों से सूरज को देखते हैं। ऐसा ना करें। यह आपकी आंखों को क्षति पहुंचा सकता है।
  • घर के बनाए जुगाड़ वाले चश्मे या किसी लेंस से सूर्य ग्रहण देखने का प्रयास न करें। इससे आपकी आंख पर बुरा असर हो सकता है।
  • अगर आपको सूर्यग्रहण देखना है तो इसके लिए सोलर फिल्टर चश्मे का इस्तेमाल करें. 
  • ग्रहण के वक्त आकाश की ओर देखने से पहले सोलर फिल्टर चश्मा लगाएं और नजर नीचे करने के बाद ही इसे हटाएं।

यह भी पढ़े – जानिए क्यों बिना छत के हैं वलसाड का तडक़ेश्वर महादेव मंदिर